“कृतज्ञता” – ओशो

कृतज्ञता बहुत डिवाइन, बहुत दिव्य बात है। हमारी सदी में अगर कुछ खो गया है, तो कृतज्ञता खो गयी है,

Read more
%d bloggers like this: